30.1 C
Ranchi
Monday, May 20, 2024

झारखंड के इस क्षेत्र में होगा पहली बार मतदान।

13 मई 2024 को झारखंड के सिंहभूम लोकसभा सीट के कई आंतरिक इलाकों में पहली बार या दशकों के लंबे अंतराल के बाद मतदान होगा। यहां दुनिया का सबसे घना सारंडा जंगल भी है, जहां लोग रहते हैं। ऐसे में यह फैसला लिया गया है कि यह लोग भी अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकें, इसके लिए हेलीकॉप्टरों की मदद से कर्मचारियों और सामग्रियों को पहुंचाया जाएगा। साथ ही दूर दराज इलाकों में 118 मतदान केंद्र बनाए जाएंगे। कोई भी व्यक्ति वोट डालने से न रह जाए।

अबतक इतनी घटनाएं

गौरतलब है, हालातों में सुधार होने के बावजूद सिंहभूम अभी भी देश के सबसे अधिक वामपंथी उग्रवाद प्रभावित जिलों में से एक है। पिछले साल यहां माओवाद से संबंधित 46 घटनाएं हुई थीं और 22 लोगों की मौत हो गई थी।

118 केंद्रों को एयर ड्रॉप के लिए चुना

कुलदीप चौधरी ने बताया कि नुगड़ी मध्य विद्यालय और बोरेरो मध्य विद्यालय जैसे मतदान केंद्रों पर इस बार पहली बार मतदान होगा। उन्होंने कहा कि रोबोकेरा, बिंज, थलकोबाद, जराईकेला, रोआम, रेंगराहाटू, हंसाबेड़ा और छोटानागरा जैसे इलाकों में 118 केंद्रों को एयर ड्रॉप के लिए चिह्नित किया गया है। कुछ इलाकों में पोलिंग पार्टियों को चार से पांच किलोमीटर तक पैदल चलना होगा। हम यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि इस बार कोई भी वोट डालने से न रह जाएं।

इस जगह 15 नए शिविर स्थापित किए

थलकोबाद और करीब दो दर्जन गांवों को पहले ‘मुक्त क्षेत्र’ (liberated zones) कहा जाता था। मगर प्रशासन सुरक्षा बलों की ओर से ऑपरेशन एनाकोंडा समेत कई अभियान चलाकर अपनी उपस्थिति साबित करने में सफल रहा। क्षेत्र में सुरक्षा बलों के कुल 15 नए शिविर स्थापित किए गए हैं।

ट्रेनों द्वारा 121 टीमें भेजी जाएंगी

अधिकारी ने बताया कि हेलीकॉप्टरों के अलावा, पोलिंग पार्टियां ट्रेनों और सड़कों के माध्यम से यात्रा करेंगी। ट्रेनों द्वारा 121 टीमें भेजी जाएंगी। पैदल चलने वाली टीमों को क्लस्टर प्वाइंट तक पहुंचना होता है और फिर मतदान केंद्रों पर जाना होता है। मतदान के दिन सुबह साढ़े पांच बजे तक सभी टीमों को मॉक पोलिंग करने के लिए स्टेशनों पर पहुंचना होगा। निर्वाचन क्षेत्र में 62 से अधिक मतदाता हैं जिनकी उम्र 100 वर्ष से अधिक है।

इतने मतदाता घर से डाल सकेंगे वोट

मनोहरपुर पुलिस स्टेशन के नंदपुर इलाके के वाल्टर लाकड़ा ने मतदान केंद्र तक पैदल नहीं जाने में असमर्थता जताई तो इस पर अधिकारी ने कहा कि वे अपने घर से ही वोट डाल सकेंगे। चौधरी ने कहा कि 62 मतदाताओं और 85 वर्ष से अधिक आयु के 3,909 मतदाताओं के अलावा 13,703 दिव्यांग लोगों के लिए हमने सुनिश्चित किया है कि वह घर से ही मतदान कर सकेंगे।

भाजपा ने गीता कोड़ा को मैदान चुनाव में उतारा

अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित विधानसभा क्षेत्र सिंहभूम में 14.32

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles