30.1 C
Ranchi
Monday, May 20, 2024

रांची यूनिवर्सिटी में इंटरमीडिएट एडमिशन को लेकर पलट गया फैसला!

रांची यूनिवर्सिटी से जुड़े कॉलेजों में 11वीं-12वीं कक्षा में दाखिला लेने वाले छात्र थोड़े परेशान हैं। आखिर क्या हुआ?

  • पहले, 20 अप्रैल को यूनिवर्सिटी ने इन कॉलेजों को झारखंड स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड (जैक) द्वारा तय सीटों पर दाखिले लेने के आदेश दिए थे।
  • मगर, मंगलवार को अचानक यूनिवर्सिटी ने अपना फैसला बदल दिया. उनका कहना है कि इंटरमीडिएट पढ़ाने के लिए कॉलेजों को राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद (NAAC) से मान्यता प्राप्त होना जरूरी है।

क्यों बदला फैसला?

रांची यूनिवर्सिटी को लगता है कि बिना NAAC मान्यता वाले कॉलेजों में इंटरमीडिएट की पढ़ाई अच्छी नहीं हो पाएगी. वो चाहते हैं कि छात्रों को बेहतर शिक्षा मिले।

टीचर्स यूनियन का विरोध

इस फैसले से झारखंड अंगीभूत महाविद्यालय इंटरमीडिएट अनुबंध शिक्षक-शिक्षकेत्तर कर्मचारी मोर्चा खुश नहीं है। उनका कहना है कि दूसरे विश्वविद्यालय दाखिले ले रहे हैं, जबकि रांची यूनिवर्सिटी पहले आदेश देकर फिर उसको वापस ले रही है। मोर्चा को लगता है कि इससे छात्रों, टीचर्स और कॉलेज स्टाफ को दिक्कत होगी। उन्होंने ये भी कहा है कि अगर यूनिवर्सिटी अपना फैसला नहीं बदलती है तो वो कोर्ट जाएंगे।

अब क्या होगा?

इस उलटफेर से छात्र असमंजस में हैं। अभी ये साफ नहीं है कि इन कॉलेजों में इंटरमीडिएट कब (या अगर) शुरू होगी।

अगर आप रांची यूनिवर्सिटी से जुड़े कॉलेजों में 11वीं-12वीं में दाखिला लेने की सोच रहे हैं तो इस मामले पर नजर बनाए रखें। यूनिवर्सिटी को जल्द ही एडमिशन और कोर्स शुरू होने की तारीख को लेकर साफ फैसला लेना चाहिए।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles